No icon

कानपुर के मनीष गुप्ता की पत्नी को मिली सरकारी नौकरी और 40 लाख की आर्थिक मदद

कैलाश कुमार गुप्ता

गोरखपुर: उत्तर प्रदेश के गोरखपुर में पुलिस की पिटाई से कानपुर के प्रॉपर्टी डीलर मनीष गुप्ता की मौत हो गई थी। अब मनीष की पत्नी मीनाक्षी को सरकारी नौकरी मिल गई है. कानपुर में मंगलवार को मीनाक्षी ने कानपुर डेवलपमेंट अथॉरिटी में ओएसडी पद पर नौकरी ज्वाइन की है। आपको बता दें गोरखपुर में पुलिसकर्मियों ने मनीष की पीट-पीटकर हत्या कर दी थी। इस पर विपक्ष ने काफी हंगामा मचा दिया था। 

 

इसके बाद सीएम योगी ने कानपुर में मीनाक्षी से मुलाकात कर 40 लाख की आर्थिक सहायता और केडीए में ओएडी की नौकरी देने का वादा किया था. इसी के साथ मनीष का केश कानपुर एसआईटी को ट्रांसफर किया था। 15 दिनों के अंदर हुई ज्वाइनिंग मनीष की मौत के 15 दिनों के अंदर पत्नी मीनाक्षी को केडीए में ओएसडी के पद पर ज्वाइनिंग भी हो गई है। नौकरी ज्वाइन करते समय मीनाक्षी, पति को याद करके अपने आसुओं को रोक नहीं पाई।  

ज्वाइनिंग के दौरान मीनाक्षी के भाई सौरभ और रंजीत सिंह भी मौजूद थे। मीनाक्षी ने इस मौके पर कहा कि सीएम साहब अब मेरी इतनी मदद और कर दें कि केस का ट्रायल गोरखपुर से कानपुर ट्रांसफर कर दें। वहीं मनीष गुप्ता की हत्या के आरोपी सब इंस्पेक्टर राहुल दुबे और कांस्टेबल प्रशांत कुमार को कैंट पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. अब तक मामले में चार लोगों की गिरफ्तारी हो चुकी है। इससे पहले रविवार को पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार किया था।

Comment As:

Comment (0)