No icon

नाधिरा के प्राथमिक विद्यालय खरवारी टोला में बच्चों को नही दिया जा रहा मीनू के अनुसार भोजन


अहमद राजा/तावर अब्बास


विद्यालय में आये दिन अनुपस्थित पाए जाते है अध्यापक

सोनभद्र/ म्योरपुर- शिक्षा विभाग प्राथमिक विद्यालयों में शिक्षा की गुणवत्ता एव बच्चों के लिए सरकार द्वारा चलाई जा रही योजनाओं को सही ढंग से चलाने के लिए प्रयासरत है परंतु कुछ अध्यापक सरकारी योजनाओं को सही ढंग से संचालित न करके सरकार की छवि खराब करने में लगे है ।बुधवार को जब नाधिरा ग्राम की ग्राम प्रधान पूजा देवी ने अपने गांव में स्थित प्राथमिक विद्यालय खरवारी टोला का निरीक्षण किया तो कई खामियां देखने को मिली।विद्यालय के बच्चों को 1:30 बजे तक भोजन नही दिया गया था और मिड डे मील मानक के अनुसार नही बनाया गया था।भोजन में मौसमी सब्जी शामिल नही था।ग्राम प्रधान ने जब इस संदर्भ में खाना बनाने वाली रसोइयों से पूछा तो उन्होंने बताया कि अध्यापक द्वारा सब्जी सहित अन्य सामान कभी भी समय से उपलब्ध नही कराया जाता यहाँ तक कि अध्यापक प्रतिदिन विद्यालय भी नही आते ।निरीक्षण के दौरान अध्यापक गुप्तेश्वर वैश्य अनुपस्थित पाए गए।अभिभावकों का कहना था कि इस विद्यालय के अध्यापक बच्चों को पढ़ाने में बिल्कुल रुचि नही लेते और मनमाने ढंग से विद्यालय का संचालन करते है जिससे बच्चों का भविष्य अंधकारमय होता जा रहा है।ग्राम प्रधान से ग्रामीण कई दिनों से विद्यालय की दुर्व्यवस्था को लेकर शिकायत कर रहे थे।ग्राम प्रधान द्वारा बुधवार को जब विद्यालय का निरीक्षण किया गया तो शिकायत सही पाया गया।इस संदर्भ में जब खण्डशिक्षाधिकारी म्योरपुर देवमणि पांडेय से बात करने का प्रयास किया गया तो उनके द्वारा फोन ही नही उठाया गया।

Comment As:

Comment (0)