No icon

शिवसेना नेता अब्दुल सत्तार ने दिया मंत्री पद से इस्तीफा

महाराष्ट्र में शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस की गठबंधन सरकार में महज एक महीने बाद ही बड़ी टूट सामने आई है। शिवसेना कोटे से मंत्री बने अब्दुल सत्तार ने पद से इस्तीफा दे दिया है। उद्धव ठाकरे कैबिनेट में राज्य मंत्री के तौर पर शामिल किए गए अब्दुल सत्तार की मांग थी कि उन्हें कैबिनेट में शामिल किया जाना चाहिए।
सूत्रों के मुताबिक पिछले दिनों कैबिनेट विस्तार के बाद से ही वह नाराज चल रहे थे। उन्हें उम्मीद थी कि कैबिनेट मंत्री का दर्जा दिया जाएगा, लेकिन ऐसा नहीं होने पर उन्होंने मंत्री पद से ही इस्तीफा दे दिया। हालांकि विधायक के तौर पर उन्होंने इस्तीफा नहीं दिया। शिवसेना के सीनियर लीडर और प्रवक्ता संजय राउत के बाद पार्टी को यह बड़ा झटका लगा है। सूबे में कांग्रेस और एनसीपी के साथ मिलकर सरकार बनवाने में उनकी भूमिका अहम थी। सूत्रों के मुताबिक वह अपने भाई सुनील राउत को कैबिनेट में मंत्री के तौर पर देखना चाहते थे, लेकिन ऐसा नहीं हुआ। कहा जा रहा है कि कैबिनेट विस्तार के शपथ ग्रहण में भी संजय राउत इसी वजह से शामिल नहीं हुए थे।

Comment As:

Comment (0)