No icon

Chhattisgarh news

आजादी के अमृत महोत्सव में भी राष्ट्रीय झंडे के बजाय कांग्रेस पार्टी का झंडा लेकर पदयात्रा करना ओछी मानसिकता है--हर्षा लोकमनी


   खेमेश्वर पुरी गोस्वामी
    पाटन: भाजपा नेत्री एव सदस्य जिला पंचायत दुर्ग श्रीमती हर्षा लोकमनी चन्द्राकर ने एक विज्ञप्ति जारी कर बताया कि पूरे देश मे आजादी के 75 वे साल को अमृत महोत्सव के रूप में मनाया जा रहा है इस महोत्सव को यादगार बनाने एव लोगो मे देशप्रेम की भावना को मजबूत करने की मंशा से माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने पूरे देश मे हर घर तिरंगा अभियान चला कर एक एक घर मे तिरंगा फहराने या लगाने का आह्वान किये, इस हेतु नागरिकों से अपील की की आप सभी मिलकर हर शहर हर गांव के एक एक गली में तिरंगे झंडे के साथ तिरंगा यात्रा जरूर करे ताकि यह संदेश अंतिम व्यक्ति तक पहुच सके।
        श्रीमती चन्द्राकर ने बताया कि इसी संदर्भ में छत्तीसगढ़ की कांग्रेस सरकार ने भी हमर तिरंगा अभियान चलाने सभी जगह आदेश किया । जिसके लिए कांग्रेस पार्टी ने अभियान को गति देने हर विधानसभा में पदयात्रा कर अभियान की शुरुआत की। इसके तहत बीते 9 अगस्त को पाटन विधानसभा में भी दो जगहों से भारत जोड़ो पदयात्रा एक भगवान शंकर की घाट टोलाघाट एव भोले नाथ की प्राचीन नगरी कौहि से शुरू की गई। इनकी ये पदयात्रा में केवल और केवल राजनीति ही दिखाई दे रही है नाम भारत जोड़ो पर काम केवल कांग्रेस का प्रचार ही नजर आ रही है ये कांग्रेसी अपने यात्रा के दौरान भारत माता की राष्ट्रीय तिरंगे झंडे के बजाय कांग्रेस की झंडे लेकर प्रचार कर रहे है इनकी ये यात्रा भारत जोड़ो है या कांग्रेस जोड़ो, इस लगता है ये कांग्रेस से बाहर देश के सम्बंध में सोच ही नही सकते, कांग्रेस की पहचान ही देश तोड़ू पार्टी के रूप में हो गई है, जिस पार्टी को स्वतंत्रता के पचहत्तरवे वर्ष अमृत महोत्सव में भी राष्ट्रीय ध्वज उठाने में शर्म आ रही हो वो क्या देश जोड़ेंगे। इतिहास में दर्ज हमारे आराध्य भगवान श्रीराम जी के अयोध्या में मंदिर निर्माण भूमिपूजन के दिन 5 अगस्त को मंहगाई की आड़ में काले कपड़े पहन कर देश भर में प्रदर्शन कर हिन्दू आस्था को शर्मशार करने वाले ऐसे कांग्रेसियों का हिन्दू होने पर शक होता है तो इनसे देशभक्ति की उम्मीद ही क्या की जा सकती है।

Comment As:

Comment (0)